एलौपैथी V/S आयुर्वेद

कोई पाप नहीं कर दिया था बाबा रामदेव ने... एलोपैथी के विरुद्ध एक सभा में अपनी बात कह कर

एलौपैथी V/S आयुर्वेद

कोई पाप नहीं कर दिया था बाबा रामदेव ने... एलोपैथी के विरुद्ध एक सभा में अपनी बात कह कर

पूरी दुनिया का एलोपैथ खुले मंच से आयुर्वेद को गालियां देता रहा है। भारत में एलोपैथी डॉक्टरों की एसोसिएशन ने स्वास्थ्य मंत्री के माध्यम से बाबा रामदेव को माफी मांगने के लिए मजबूर कर दिया। जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

* यह स्थिति स्वदेशी, देसी और आयुर्वेदिक संस्थानों व एसोसिएशनों के लिए चिंताजनक है।

*आयुर्वेद आगे बढ़ रहा है... जो भारत की देन है।
क्यों चाहेगी दुनिया आयुर्वेद का परचम विश्व पर लहराए।
और भारत में तो उनके चमचे दुनिया भर के बैठे हैं।
वास्तव में यह बाबा रामदेव के बयान का विरोध नहीं है। आयुर्वेद की बढ़त से एलोपैथी के एजेंटों को चिढन हो रही है‌।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व वर्तमान राष्ट्रीय महासचिव *आज तक पर ऐसी भाषा का प्रयोग कर रहे थे...
जैसे कोई गली मोहल्ले का टुच्चा नेता करता है। आई एम ए की भी जांच बैठानी चाहिए सरकार को...

* आई एम ए के सर्वोच्च नेताओं का ऐसा व्यवहार देख कर लगा कि जिस प्रकार से उंगलियां एलोपैथी पर उठती रही है। पूरा का पूरा एलोपैथी कारोबार लूट तंत्र बताया जाता रहा है। वह सत्य है।

* आयुर्वेद पर उंगली उठाने वाले बताएं! कोरोना संकट में एलोपैथ ने कितने झंडे गाड़ दिए।

*दूसरी और आयुर्वेद को मानने वालों ने हमेशा कहा है की एलोपैथी आपातकाल का समाधान है। आयुर्वेद उसमें कारगर नहीं है। लेकिन एलोपैथी मुखर होकर सिरे से आयुर्वेद को नकारता रहा है।

* कोरोना संकट में ही आप स्वयं निर्णय कर ले! एलोपैथी के अस्पतालों में कितने मरीज ठीक हुए हैं। और काढ़ा पीकर घर रहकर कितने मरीज ठीक हुए हैं।

मित्रों ध्यान रहे!

आयुर्वेद और योग के माध्यम से भारत के बढ़ते कदमों को कुचलने की यह साजिश है। इस साजिश का हमें मुखर होकर जवाब देना होगा। केवल बाबा रामदेव के एक बयान को लेकर हम चुप्पी साध कर ना बैठे। आयुर्वेद के विरोध में ऐसे सैकड़ों बयान प्रतिदिन एलोपैथी के एजेंटों द्वारा सार्वजनिक मंचो पर दिए जाते हैं। तब कोई बोलने वाला नहीं है।

जय भारत जय भारती

???
डॉ अजय ओझा
पत्रकार


admin Video

149 Blog posts

Comments